खुलासा : ममता के बंगाल से बदले जा रहे थे केजरीवाल की दिल्ली के नेताओं के नोट

loading...


नोटबंदी के बाद हर तरफ अफरा तफरी मची हुई है। सब नेताओं के पैसों पर नोटबंदी ने अपने पैर रख लिएहैं। माना जा रहा है की कुछ नेता नोटबंदी में भी अपना फायदा कर रहे हैं। कहा यह भी जा रहा है की नोटबंदी के बाद ममता ने बंगाल में कालेधन को सफेद करने का काम शुरू कर दिया है। यह माना जा रहा है और एक खबर के अनुसार इस बात की पुष्टि भी हुई है की इस काम में अनेक पार्टियों के नेता भी ममता जी का साथ दे रहे हैं।

दिल्ली के कुछ नेताओं ने कबूला है – दिल्ली के कुछ नेताओं ने काबुल किया है की उन्होंने ममता जी के पास से पैसे बदलवाए हैं। यहाँ तक की कुछ नेताओं एक्सिस बैंक से पैसे बदलवाने की बात को भी माना है। उन नेताओं के अनुसार नोटबंदी का उनपर कोई असर नहीं हुआ है क्योंकि उनके नोट पहले ही बदल गये हैं।

एक्सिस बैंक ने दिया नेताओं का साथ – एक बैंक ने पुरे भारत को धोखा दिया उस बैंक नाम है एक्सिस इस बैंक ने सभी नेताओं को ऐसे पैसे दिए जैसे वो उनके सगे भाई हो। भिया पैसा तो चाहिए था पर ऐसे नहीं पर नेताओं के लिए इन्होने अपने नियम तोड़ दिए थे। यहाँ तक की इस बैंक में पैसा सफेद करवाने के लिए आम आदमी के भी अनेक नेता आये और पैसा सफेद करवाकर गये थे।

इडी और लोढा ने खोली पोल – नोटों की अदला बदली में गिरफ्तार हुए लोढा और इडी ने कबूल किया है की उनके अनके कारोबारियों के साथ ही नहीं अनेक नेताओं के साथ भी संपर्क हैं। उन्होंने लाखों रुपयों की अदला बदली की है। उन्होंने बताया की वो 11 करोड़ रूपए की बड़ी रकम को ऐसे बदल चुका है। उनका मानना है की यह सारा रुपया नेताओं का था और नेताओं ने ही बदलवा लिया है।

दाउद की गैंग से भी है संपर्क – इन दोनों ने यह भी कबूल किया है की दाउद की गैंग से भी इनका कांटेक्ट हैं। इनका कहना है की इनके पास पैसों को बदलने के लिए नोट जहाँ से आते थे वो भी सरकार के ख़ास लोग थे, खैर सच्चाई क्या है वो पुलिस पता लगा रही है।