मोदी सरकार का एक और धमाका, अब आएगा जनसंख्या नियंत्रण क़ानून

loading...


जिस तरह भारत की आबादी बढ़ रही है। खासकर जो अल्पसंख्यक है वो अपनी जनसंख्या में वृद्धि कर रहे हैं। ऐसे में भारत को एक नया प्लान बनाना पड़ रहा है। भारत ने हाल ही में एक ऐसा सिस्टम लागू किया है जिससे भारत की जनसंख्या भी कंट्रोल होगी और भारत का विकास भी होगा। भारत में आज भी ऐसे लोग मौजूद है जो अपनी संख्या को बढाने के लिए नियम और कायदों को तोड़ रहे हैं। ऐसे में मोदी सरकार एक ऐसा प्लान जनता के सामने ला रही है यदि किसी ने भी इस प्लान का विरोध किया या इसके विरुद्ध काम किया तो भिया उसको कुछ भी नहीं मिलने वाला है।

नहीं मिलेगी नौकरियां – यदि आप किसी नौकरी की तैयारी कर रहे हो तो भिया अपने बच्चों की तैयारी मत करना अगर करो भी तो एक या दो की ही करना क्योंकि भारत सरकार  ने सिर्फ दो ही बच्चों की अनुमति दी है। यदि यह लिमिट क्रोस हुई तो नौकरी भी नहीं मिलेगी और मिल भी गई है तो ज्वाइन भी नहीं होने देंगे।

ट्रिपल तलाक का सिस्टम खत्म – यदि कोई धर्म तलाक तलाक — कहने को तलाक मानता है तो यह भी सरकार नहीं होने देंगी। यदि कोई अपनी जनसंख्या बढाने के लिए तलाक के नाम पर अनेक शादियाँ कर रहा है तो उसे सजा भी  मिल सकती है और जो उसकी पहली पत्नी या दूसरी पत्नी है उसका महीने का खर्चा भी देना होगा। यहाँ तक की उनके बच्चो की पढाई का खर्च भी देना होगा।

चुनाव भी नहीं लड़ने देगी सरकार – यदि किसी के दो से ज्यादा बच्चे है तो राजनिति से बाहर कर दिया जाएगा ऐसे व्यक्ति को। ऐसे में वो किसी भी तरह का चुनाव नहीं लड़ पायेगा। सरकार ने यह प्रवधान बहुत जल्द लागू करने की सोची हैं।

चीन से भी ज्यादा कठोर नियम – भारत सरकार ने चीन से भी ज्यादा कठोर नियम लागू किये हैं। यहाँ तक की स्कूलों के पाठ्यक्रम में भी जनसंख्या पर नियन्त्रण करने का सब्जेक्ट लागू किया है। चीन का नियम हमारे भारत के इस नियम के आगे बहुत फीका नजर आ रहा है। अब देखना यह है की भारत सरकार के इस नियम को कितने लोग मानते हैं, वैसे आज के युवा इस नियम का फायदा जानते हैं क्योंकि भिया चुनाव भी नहीं लड़ पाओगे और नौकरी भी नहीं मिलेगी।